23.1 C
New Delhi
December 2, 2023
देश

उप्र 56 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य बना

- चौबीस घंटे में 5,061 नए मामले आए सामने, सक्रिय मामलों की संख्या 54,788 पहुंची  

लखनऊ: प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना के 5,061 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब बढ़कर 54,788 हो गई है। वहीं अब तक 1,72,140 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। राज्य में अब तक 3,486 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश देश में 56 लाख कोरोना टेस्ट के आंकड़े को पार करने वाला पहला राज्य बन गया है। प्रदेश इस दिशा में लगातार नई उपलब्धियां हासिल कर रहा है। कल ही राज्य ने 54 लाख से अधिक कोरोना जांच के आंकड़े को छुआ था।

रविवार को हुई 1.36 लाख कोरोना नमूनों की जांच

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में रविवार को कुल 1,36,585 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 56,26,897 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी है। इस तरह प्रदेश में अब 56 लाख से अधिक टेस्ट हो चुके हैं। राज्य लगातार प्रतिदिन से लेकर कुल कोरोना जांच के मामले में देश में अव्वल बना हुआ है।

27,263 लोग होम आइसोलेशन में करा रहे इलाज

उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 27,263 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। वहीं 2,657 लोग निजी अस्पतालों, 260 मरीज होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी और शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत विभिन्न सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। वहीं अब तक 1,00,682 लोग होम आइसोलेशन की सविधा का लाभ ले चुके हैं, जिनमें से 73,419 को डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

प्रदेश में 62,901 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित

प्रदेश में कुल 62,901 ‘कोविड हेल्प डेस्क’ की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए सात लाख से अधिक लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।

01 जून से 30 अगस्त तक की गई 1.09 लाख सर्जरी

अपर मुख्य सचिव-गृह ने बताया कि राज्य में कोविड केयर के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरी तरह ध्यान दिया जा रहा है। प्रदेश में बीते वर्ष 01 जून से 30 अगस्त तक सरकारी अस्पतालों में जहां 53,032 मेजर सर्जरी और 89,238 माइनर सर्जरी की गई। वहीं कोरोना संक्रमण काल के बावजूद इस वर्ष इसी समयावधि में 42,557 मेजर सर्जरी और 66,845 माइनर सर्जरी की गई। इसके साथ ही राज्य में 29 अगस्त को सरकार अस्पतालों में 6,143 बच्चों का जन्म हुआ। इनमें 5,959 नॉर्मल डिलीवरी व 184 सिजेरियन डिलीवरी हुई।

पढ़ें: सावधान! कोरोना वायरस अभी नहीं हारी, देश के कई हिस्सों में हालात बेकाबू

Related posts

मोदी मंत्रिपरिषद का हुआ विस्तार, 15 ने कैबिनेट और 28 ने राज्यमंत्री की ली शपथ

Buland Dustak

राज्यसभा में महामारी रोग संशोधन विधेयक, 2020 पारित

Buland Dustak

हेट स्पीच और फर्जी खबरों पर रोक लिए एक मजबूत प्रणाली है : ट्विटर

Buland Dustak

शारदीय नवरात्र विंध्य कॉरिडोर का मॉडल बनाने का बेहतरीन मौका

Buland Dustak

खिलौना निर्माण के प्रोत्साहित के लिए “टॉयथॉन चैलेंज-2020” का शुभारंभ

Buland Dustak

G4 Nations: विदेश मंत्रियों की न्यूयॉर्क मुलाकात में सुरक्षा परिषद के सुधारों पर जोर

Buland Dustak