36.8 C
New Delhi
May 26, 2024
एजुकेशन/करियर

IIT Bombay की प्रतिभाशाली मानव पूंजी रोजगार सृजनकर्ता के रूप में उभरेगी

मुंबई : केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि IIT Bombay संस्थान की प्रतिभाशाली मानव पूंजी रोजगार सृजनकर्ता के रूप में उभरेगी, जो वैश्विक कल्याण के लिए काम करेगी और एक मजबूत और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण की दिशा में भी काम करेगी।

IIT Bombay

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को मुंबई में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बॉम्बे परिसर में नवनिर्मित छात्रावास- 17 का उद्घाटन किया। केंद्रीय मंत्री ने पट्टिका का अनावरण भी किया और छात्रावास परिसर में एक पौधा लगाया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री प्रधान ने कहा कि छात्रों की गुणवत्ता, पाठ्यक्रम और संकाय के अलावा, एक महान छात्र अनुभव के लिए परिसर का माहौल महत्वपूर्ण है।

“वातावरण सकारात्मकता पैदा करता है। यदि आप सकारात्मक हैं, तो आप सहज रहेंगे। प्रत्येक व्यक्ति में नवप्रवर्तन और योगदान करने की क्षमता होती है।

Read More : आईआईटी कानपुर ने National Centre for geodesy का किया शुभारंभ

उन्होंने कहा कि नए छात्रावास में 1,115 कमरे हैं , इन्हें उच्च शिक्षा वित्त पोषण एजेंसी (एचईएफए) के फंड से बनाया गया है, जिसकी अनुमानित लागत 117 करोड़ रुपये है। मंत्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आईआईटी से नियोक्ता और उद्यमी निकलेंगे, कर्मचारी नहीं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत के पास ज्ञान की कोई कमी नहीं है और भारत ने दिखाया है कि उसके पास जटिल वैश्विक समस्याओं का समाधान है। उन्होंने सुझाव दिया कि आईआईटी को आपदा प्रबंधन, स्वच्छ ऊर्जा के क्षेत्रों सहित अगले 50 वर्षों के लिए भारत की आवश्यकताओं की मैपिंग करनी चाहिए और स्थिरता और उन आवश्यकताओं को पूरा करने की दिशा में काम करते हैं। उन्होंने IIT Bombay समुदाय को आने वाले दशकों में राष्ट्र के पाठ्यक्रम को आकार देने में निर्णायक भूमिका निभाने की अपील की है।

Related posts

ARAAI Ranking 2020 : आईआईटी-मद्रास शीर्ष रैंक पर

Buland Dustak

आईआईआईटी संशोधन विधेयक राज्यसभा से पारित

Buland Dustak

2 मई से शुरू होने वाली UGC NET 2021 परीक्षा स्थगित

Buland Dustak

यूपीएससी सिविल सेवा 2019 परीक्षा के साक्षात्कार शुरू

Buland Dustak

Jee Advanced 2021 : 3 अक्टूबर को ढाई लाख विद्यार्थी देंगे परीक्षा

Buland Dustak

जेईई मेन-2021 के मार्च सत्र के परिणाम में 13 उम्मीदवारों ने 100 परसेंटाइल किया स्कोर

Buland Dustak