27.1 C
New Delhi
April 20, 2024
Dustak Special

डिजिटल मार्केटिंग : जानिये कैसे बना सकते हैं आप इसमें अपना करियर

भारत को विश्व का सबसे युवा देश माना जाता है, यहां दूसरे देशों की तुलना में इंटरनेट का उपयोग लगातार बढ़ रहा है। जिसके चलते  डिजिटल मार्केटिंग(Digital Marketing) के क्षेत्र में नए अवसर मिल रहे हैं।  इंटरनेट, कंप्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की मदद से यह मार्केटिंग की जाती है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहते है।

सबसे पहले डिजिटल मार्केटिंग को स्थापित करने के लिए 1980 के दशक में प्रयास किये गए तब यह संभव न हो सका, लेकिन 1990 के दशक में नाम रखा गया और  इसके उपयोग की शुरुआत हुई। Digital Marketing के जरिये नए ग्राहकों तक आसानी से पहुँचा जा सकता है। इसके अलावा उत्पादक ग्राहकों की गतिविधियों और उनकी आवश्यकताओं पर भी नज़र रख सकते हैं। वर्तमान में इसी ने अपनी एक अलग जगह बना ली है।

डिजिटल मार्केटिंग

लोग इंटरनेट के जरिये इसके इस्तेमाल से अपना मनपसंद व आवश्यक सामान आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। तो कहा जा सकता है कि डिजिटल मार्केटिंग ,डिजिटल तकनीक के इस्तेमाल से ग्राहकों तक उत्पाद पहुँचाने का एक सरल माध्यम है। वर्तमान मे यह काफी आवश्यक हो गयी है। इसकी सबसे बड़ी वजह यही है कि हर कोई इंटरनेट का इस्तेमाल करता है।

डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर के नए अवसर

आज व्यापारी को व्यापर करने में काफी आसानी हो रही है। क्योंकि वह भी इसी के चलते कम समय में अधिक से अधिक लोगों से जुड़ रहा है और अपने उत्पाद को उपभोक्ता तक पहुंचा रहा है। इस के जरिये कोई भी कंपनी अपने उत्पाद को  सोशल मीडिया पर आसानी से दिखा सकती है। डिजिटल मार्केटिंग रोजगार का साधन बन चुका है। आज के समय में लगभग हर कोई इंटरनेट और सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते है,

Read More:- साइबर क्राइम: डिजिटल दुनिया में बढ़ती चुनौतियां

जिसके चलते बड़ी कंपनी और छोटे दुकानदार , सभी को ही अपने उत्पाद और सर्विसेस की मार्केटिंग के लिए इस का उपयोग कर रहे है। वर्तमान में digital तकनीक की सहायता से Digital Marketing करना असरदार और सरल तरीका है। इस के जरिये कंपनियां अपने टार्गेटिंग  ग्राहकों के लिए अपने उत्पाद और सर्विस का विज्ञापन अब आसानी से दे सकती है।

Digital Marketing से अपने उत्पाद और सर्विस को प्रमोट करना काफी सस्ता हो गया हैं। जैसा कि अब स्मार्टफोन और इंटरनेट उपयोगकर्ता काफी तेजी से बढ़ रहे हैं, इसीलिए भविष्य में इस की मांग काफी बढ़ेगी। इसी के साथ डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर के नए अवसर भी खुलेंगे, यह दूसरे मार्केटिंग की तुलना में सरल और सस्ता है। इसीलिए आने वाला दौर इसी का ही होगा। 

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

1. ब्लॉगिंग:- ब्लॉगिंग में ब्रांड या कंपनी का एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाई जाती है और उस पर उत्पाद और सर्विसेस का प्रचार करते हैं। ग्राहक  वेबसाइट पर आकर आपके उत्पाद और सर्विसेस को देख सकता है और खरीद सकता है , इस को ब्लोगिंग कहते है।

2. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन:- सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के जरिये गूगल पर उत्पादों को मुफ्त में प्रमोट किया जाता है। सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की मदद से गूगल के सर्च रिजल्ट्स में ऊपर आते है और ऐसे में टारगेट ग्राहक को उत्पाद अथवा सर्विस का विज्ञापन दिखता है।

3. ईमेल मार्केटिंग:- ईमेल मार्केटिंग भी इसी  का हिस्सा है , इस में टारगेट ग्राहक को ईमेल की सहायता से उत्पादों अथवा सर्विस का विज्ञापन भेजा जाता है।  ईमेल मार्केटिंग में टारगेट ग्राहक को उत्पाद और सर्विसेस के बारे में बताया जा सकता है।

4. सोशल मीडिया मार्केटिंग:- सोशल मीडिया मार्केटिंग डिजिटल मार्केटिंग का तरीका है। जो कि Facebook , Instagram , Twitter, LinkedIn, Pinterest और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर उत्पाद और सर्विसेस को प्रमोट करता है।

5. कंटेंट मार्केटिंग :- कंटेंट मार्केटिंग में उत्पाद और सर्विसेस के लिए विशेष विज्ञापन के लिए स्लोगन और कंटेंट लिखवाया जाता है। इसमें विशेष प्रकार के शब्दों और वाक्यों को चुन कर विज्ञापन को आकर्षक बनाया जाता है।

6. एप्प्स मार्केटिंग:- एप्प्स मार्केटिंग में उत्पादों और सर्विस को प्रमोट करने के करने के लिए  एंड्राइड अथवा आईएसओ एप्लीकेशंस की मदद ली जाती है। इसमें खुद की कंपनी का ऐप बनाकर भी उत्पाद की मार्केटिंग की जाती है।
Digital Marketing का भविष्य

भारत के अलावा अन्य देशों में इंटरनेट उपयोगकर्ताओ की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। जिसके चलते कहा जा सकता है कि आने वाले समय में जो भी उत्पादों और सर्विसेस की मार्केटिंग करेगा, वह इसी का उपयोग करेगा।

वर्तमान में  बड़ी कंपनियों से लेकर तथा छोटे व्यपारियों तक सभी अपने उत्पादों की मार्केटिंग के लिए इसी का उपयोग कर रहे है। जिससे कहा जा सकता है कि आने वाला दौर Digital Marketing मार्केटिंग का है। ऐसे में  इसी को हम भविष्य की मार्केटिंग इंडस्ट्री के तौर पर भी देख सकते हैं। 


सोनाली (दिल्ली विश्वविद्यालय))

Related posts

भारत के टॉप 5 शहरों के लाजवाब स्ट्रीट बेस्ड फूड

Buland Dustak

अयोध्या के राम मंदिर का इतिहास (सन 1528-2020 तक)

Buland Dustak

BioScope से OTT तक कितना बदल गया मनोरंजन का सफर

Buland Dustak

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI) : तेजी से हो रहा इसका विकास, जानें फायदे और नुकसान

Buland Dustak

मुंशी प्रेमचंद के लेखन ने जगाई थी आजादी की आस

Buland Dustak

महिला सशक्तिकरण: समाज की दशा और दिशा

Buland Dustak