27.1 C
New Delhi
April 20, 2024
देश

प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों में जगा खुद के घर का विश्वास

-प्रधानमंत्री ने योगी सरकार की पीठ थपथपाकर कहा- उप्र में बदला आवास योजना का तरीका
-पीएमएवाई-जी के 6.10 लाख लाभार्थियों को 2,690 करोड़ की धनराशि ऑनलाइन हस्तांरित

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पांच साल पहले उत्तर प्रदेश के आगरा से उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारंभ किया था। इतने कम वर्षों में इस योजना ने देश के गांवों की तस्वीर बदलनी शुरू कर दी है। इस योजना के साथ करोड़ों लोगों की उम्मीद जुड़ी हुई है, उनके सपने जुड़े हुए हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना ने गरीब से गरीब को भी यह विश्वास दिलाया है कि आज नहीं तो कल मेरा भी अपना घर हो सकता है। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि योगी सरकार की सक्रियता का परिणाम है कि यहां आवास योजना के काम की गति भी बदल गई और तरीका भी बदल गया है।

उत्तर प्रदेश में गरीबों के लिए तेजी से बनाए जा रहे घर

प्रधानमंत्री बुधवार को प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के तहत उत्तर प्रदेश के 6.10 लाख लाभार्थियों को 2,690 करोड़ रुपये की धनराशि ऑनलाइन हस्तांरित करने के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि खुशी की बात है कि उत्तर प्रदेश आज देश के उन राज्यों में शामिल है, जहां गांव, देहात के इलाकों में गरीबों के लिए सबसे तेजी से घर बनाए जा रहे हैं। इसी गति का उदाहरण आज का आयोजन भी है। 

अगली सर्दी आज के लाभार्थियों के लिए नहीं होगी कठिन

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के कार्यक्रम में पांच लाख से ज्यादा परिवार ऐसे हैं जिन्हें घर बनाने के लिए उनकी पहली किश्त मिली है। आज 80 हजार परिवार ऐसे भी हैं जिन्हें उनके मकान की दूसरी किश्त मिल रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि अब इन परिवारों के लिए अगली सर्दी इतनी कठिन नहीं होगी। अगली सर्दी में इनका अपना घर भी होगा और घर में सुविधाएं भी होंगी। 

प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों में जगा खुद के घर का विश्वास

पहले की सरकारों में आवास योजनाओं की हकीकत से सभी वाकिफ

उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों के दौरान उत्तर प्रदेश में क्या स्थिति थी ये सभी ने देखा है। गरीब को ये विश्वास ही नहीं था कि सरकार भी घर बनाने में उसकी मदद कर सकती है। जो पहले की आवास योजनाएं थीं, जिस तरह से घर उनके तहत बनाएं जाते थे, वो भी किसी से छिपा नहीं है। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत का सीधा सम्बन्ध देश के नागरिकों के आत्मविश्वास से है। घर एक ऐसी व्यवस्था और ऐसा सम्मानजनक तोहफा है जो इंसान का आत्मविश्वास कई गुना बढ़ा देता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों में जगा खुद के घर का विश्वास

आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक हर गरीब परिवार को पक्का घर देने का लक्ष्य

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक हर गरीब परिवार को पक्का घर देने का लक्ष्य तय किया था। बीते वर्षों में लगभग दो करोड़ घर सिर्फ ग्रामीण इलाकों में बनाए गए हैं। अकेले प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भी करीब सवा करोड़ घरों की चाबी लोगों को दी जा चुकी है। इस पूरे अभियान की सबसे खास बात यह है कि जितने भी घर बन रहे हैं, सबके लिए पैसा सीधे गरीबों के बैंक खातों में दिया जा रहा है। ताकि किसी भी लाभार्थी को तकलीफ न हो, भ्रष्टाचार का शिकार न होना पड़े। केन्द्र और उत्तर प्रदेश सरकार मिलकर इसके लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। 

उप्र में 21.5 लाख घरों को बनाए जाने की स्वीकृति 

प्रधानमंत्री ने योगी सरकार के कार्यों की सरहाना करते हुए कहा कि आज योगी जी की सरकार की सक्रियता का परिणाम है कि यहां आवास योजना के काम की गति भी बदल गई और तरीका भी बदल गया है। उत्तर प्रदेश में करीब 22 लाख ग्रामीण आवास बनाए जाने हैं। इनमें से 21.5 लाख घरों को बनाए जाने की स्वीकृति भी दी जा चुकी है। 

सुविधाओं में गांव-शहर के बीच का अंतर कम करने की हो रही कोशिश

उन्होंने कहा कि आज देश की कोशिश है कि मूलभूत सुविधाओं में गांव और शहर के बीच का अंतर कम किया जा सके। गांव में सामान्य मानवी के लिए भी जीवन उतना ही आसान हो जितना बड़े शहरों में है। प्रधानमंत्री आवास योजना को शौचालय, बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी जोड़ा जा रहा है। बीते चार वर्षों में उत्तर प्रदेश की सरकार ने केंद्र सरकार की योजनाओं को जिस तेजी से आगे बढ़ाया है, उससे उत्तर प्रदेश को एक नई पहचान भी मिली है और नई उड़ान भी मिली है। 

शुभ समय में अपना घर बनाने की लिए धनराशि मिलने का ज्यादा आनंद

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि जल्द ही सूर्य उत्तरायण में आये हैं। कहते हैं कि यह समय शुभकामनाओं के लिए बहुत अहम होता है। ऐसे शुभ समय में अपना घर बनने के लिए धनराशि मिल जाए तो आनंद और बढ़ जाता है। उन्होंने कहा भी कुछ दिन पहले ही देश ने कोरोना की वैक्सीन को लेकर दुनिया का सबसे बड़ा अभियान चलाया है। अब एक और उत्साह बढ़ाने वाला काम आज हो रहा है। उन्होंने लाभार्थियों से संवाद के दौरान उनके चेहरे पर खुशी, संतोष का भाव दिखायी देने पर बहुत प्रसन्नता जतायी। 

गुरु गोविंद सिंह के दिखाए मार्ग पर देश बढ़ रहा आगे

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दशम गुरु श्री गोविंद सिंह जी का प्रकाश पर्व भी है। उन्होंने सभी देशवासियों को प्रकाश पर्व की हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि गुरु साहब की मुझ पर बहुत कृपा रही है। यह मेरा सौभाग्य रहा है कि गुरु साहब मुझसे निरंतर सेवाएं लेते रहे हैं। उन्होंने कहा कि सेवा और सत्य के पथ पर चलते हुए बड़ी से बड़ी चुनौती से भी लड़ने की प्रेरणा हमें गुरु गोविंद सिंह के जीवन से मिलती है।

प्रधानमंत्री ने गुरु गोविंद सिंह के ‘सवा लाख से एक लड़ाऊं चिड़ियों सौं मैं बाज लड़ाऊं तबे गोविंद सिंह नाम कहाऊं’ पंक्तियों का जिक्र करते हुए कहा कि इतना अदम्य साहस सेवा और सत्य की शक्ति से ही आता है। उन्होंने कहा कि गुरु गोविंद सिंह जी के दिखाए इस मार्ग पर देश आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीब, पीड़ित, शोषित, वंचित की सेवा व उनका जीवन बदलने के लिए आज देश में अभूतपूर्व काम हो रहा है। 

Related posts

मेयर सुशीला कंवर ने किया 362.33 करोड़ का बजट पेश

Buland Dustak

जीत रहा है देशः कोरोना की घटती रफ्तार, टीकाकरण का बढ़ता दायरा

Buland Dustak

Netaji Indoor Stadium में शुरू हुई देश की सबसे पुरानी टूरिज्म प्रदर्शनी

Buland Dustak

केन-बेतवा लिंक परियोजना बदलेगी किसानों की जिंदगी : प्रधानमंत्री मोदी

Buland Dustak

रूस में चीन और पाकिस्तान के साथ भारत करेगा युद्धाभ्यास

Buland Dustak

कृषि कानून पर किसानों की दो टूक ‘कानून वापस तो हम घर वापस’

Buland Dustak