विदेश

पेट्रोल-डीजल में लगातार बढ़ती कीमतों के चलते बढ़ी ईंधन की तस्करी

- नेपाल में भारत से 30 रुपये सस्ता पेट्रोल-डीजल
- नेपाल में सस्ती कीमतों के चलते बढ़ी तस्करी
- तस्करी पर रोक लगाने के लिए नेपाल ऑयल निगम हुआ सख्त

नई दिल्ली, 22 फरवरी

इन दिनों देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हर दिन इजाफा हो रहा है। भारत में बढ़ती ईंधन की कीमतों के चलते पड़ोसी देश नेपाल से छिपकर तेल लाकर भारत में बेचा जा रहा है। भारत से सामान लेकर नेपाल जाने वाले ट्रक अपना टैंक लगभग खाली करके नेपाल जाते हैं और वहां से फुल करवा कर लौट रहे हैं। इसके अलावा अन्य कई तरीकों से भी लोग पेट्रोल-डीजल की स्मगलिंग कर रहे हैं।

पुलिस के मुताबिक उन्होंने पिछले हफ्ते ही नेपाल से 1360 लीटर डीजल भरवा लौट रहे टैंकर को जब्त किया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि भारत-नेपाल बॉर्डर के साथ लगते 5 भारतीय सूबे, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, सिक्किम और पश्चिम बंगाल में नेपाल से सस्ता पेट्रोल-डीजल लाकर ज्यादा दामों पर बेचा जा रहा है।

लगातार बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की तस्करी को लेकर अब नेपाल सरकार सख्त हो गई है। नेपाल ऑयल निगम ने बॉर्डर पर स्थित पेट्रोल पम्पों को सख्त दिशानिर्देश जारी किए हैं कि अब भारतीय वाहनों में 100 लीटर से ज़्यादा डीज़ल नहीं दिया जाए। इसके अलावा गैलन या कंटेनर में पेट्रोल-डीजल देने पर भी रोक लगाई गई है।

पेट्रोल-डीजल

दिशानिर्देशों में यह भी कहा गया है कि बॉर्डर के साथ लगते जिलों के पेट्रोल पम्पों की रोजाना जांच की जाएगी कि कहीं वहां ईंधन की कालाबाजारी तो नहीं हो रही। भारत की तरफ जाने वाली गाड़ियों की जांच की भी सख्ती से जांच की जाएगी।

उल्लेखनीय है नेपाल में पेट्रोल-डीजल की कीमतें इस समय भारत से लगभग 30 रुपये कम हैं। यानी अगर भारत में कई राज्यों में पेट्रोल 100 रुपये बिक रहा है तो नेपाल में इसकी कीमत 70 रुपए प्रति लीटर है। डीजल वहां 59 रुपये के आसपास है, जबकि भारत में यह 90 रुपये के करीब पहुंच चुका है।

यह भी पढ़ें: IGNOU ने पर्यावरण विज्ञान में शुरू की MSc., उत्तराखंड में होगा अध्ययन केन्द्र

Related posts

हैती में इमरजेंसी घोषित, राष्ट्रपति की हत्या में शामिल चार संदिग्ध ढेर

Buland Dustak

वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट: खुशहाल देशों की लिस्ट में फिनलैंड शीर्ष पर, भारत 139वें नंबर पर

Buland Dustak

जापान की संसद ने Fumio Kishida को चुना नया प्रधानमंत्री

Buland Dustak

इजराइल में क्यों देनी पड़ रही कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज

Buland Dustak

ट्रम्प और बाइडन में व्हाइट हाउस को लेकर रोमांचक भिड़ंत

Buland Dustak

KP Sharma Oli देंगे इस्तीफा या अविश्वास प्रस्ताव का सामना करेंगे

Buland Dustak