34.1 C
New Delhi
July 20, 2024
एजुकेशन/करियर

IGNOU ने पर्यावरण विज्ञान में शुरू की MSc., उत्तराखंड में होगा अध्ययन केन्द्र

नई द‍िल्‍ली, 20 फरवरी

इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद़यालय (इग्‍नू) पहली बार शैक्षणिक सत्र जनवरी-2021 से पर्यावरण विज्ञान में मास्टर ऑफ साइंस (एमएससी) का डिग्री पाठ्यक्रम शुरू करने जा रहा है। इस पाठ्यक्रम को इग्‍नू में स्कूल ऑफ इंटर-डिसिप्लिनरी एंड ट्रांस-डिसिप्लिनरी स्टडीज द्वारा ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (ओडीएल) के माध्यम से पेश किया जा रहा है।

विश्वविद्यालय ने शनिवार को कहा कि किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बीएससी की डिग्री प्राप्त छात्र इसके ल‍िए आवेदन कर सकते हैं। छात्रों को इग्‍नू की आधिकारिक वेबसाइट ignouadmission.samarth.edu.in पर जाकर इस पाठ्यक्रम के लिए आवेदन देना होगा। आवेदन करने की अंतिम तारीख 28 फरवरी है।

इस पाठ्यक्रम का उद्देश्य बढ़ती पर्यावरण और विकासात्मक समस्याओं से निपटने के लिए कुशल मानव-शक्ति तैयार करना है। यह कार्यक्रम सामाजिक-आर्थिक कारणों और प्रदूषण की विशेषताओं और प्राकृतिक पर्यावरण के क्षरण की जानकारी देगा, जिसमें मानव, वायुमंडल, पारिस्थितिकी तंत्र और अन्य जीवों पर प्रभाव शामिल हैं। पर्यावरण विज्ञान

इग्नू के आधिकारिक बयान के अनुसार यह कार्यक्रम पर्यावरण के मुद्दों पर स्वतंत्र आकलन की क्षमता विकसित करने के लिए शिक्षार्थियों को आवश्यक साधन मुहैया करेगा। इसके अलावा शिक्षार्थियों को पर्यावरण प्रणालियों और समस्याओं का विश्लेषण और आकलन करने के लिए अच्छी तरह से तैयार किया जाएगा। इससे छात्र पर्यावरण नियोजन के लिए नीतियों और रणनीतियों के विकास में योगदान कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें: क्या डायबिटीज़ के मरीजों को सेब खाना चाहिए?

Related posts

69000 शिक्षक भर्ती: 28 व 29 जून को होगी दस्‍तावेजों की जांच

Buland Dustak

14 इंजीनियरिंग कॉलेजों को क्षेत्रीय भाषाओं में पढ़ाने की अनुमति

Buland Dustak

एनटीपीसी ने मेडिकल के छात्रों के लिए 47 पदों की निकाली वैकेंसी

Buland Dustak

IIT दिल्‍ली के शोधकर्ताओं ने विकसित की ई-कचरा प्रबंधन की नई तकनीक

Buland Dustak

उत्तराखंड बोर्ड का हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट घोषित

Buland Dustak

IIT Delhi ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में शुरू किया MTech Course

Buland Dustak