27.1 C
New Delhi
April 20, 2024
बिजनेस

डिजिटल वर्ल्ड का सबसे बड़ा हमला, कई हाईप्रोफाइल ट्विटर अकाउंट हुए हैक

नई दिल्ली: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को लेकर अब हर दिन कोई न कोई बड़ी खबर सुनने को मिल ही जाती है। हाल ही में ये सुनने को मिला था कि घंटों तक व्हाट्सएप डाउन रहा, लोग व्हाट्सएप का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे थे। जिसके कारण लोगों को कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। अब ट्विटर पर अब तक का सबसे बड़ा साइबर अटैक हुआ है। इसमें अमेरिका के कई दिग्गज हस्तियों के ट्विटर अकाउंट हैक  कर लिए गए हैं।

इनमें अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स, दुनिया के सबसे अमीर और इन्वेस्टमेंट गुरु वारेन बफे शामिल हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन, रैपर कानये वेस्ट, उबर, नेतन्याहू, एपल आईफोन की निर्माता कंपनी एप्पल समेत दुनिया के कई बड़े कारोबारियों और नेताओं के ट्विटर अकाउंट बुधवार को हैक कर लिया गया।

ट्विटर अकाउंट

ऐसे कई हाई प्रोफाइल ट्विटर अकाउंट को एक साथ क्रिप्टोकरंसीज घोटाले के लिए हैक किए जाने की जानकारी सामने आई है। हालांकि ट्विटर ने कहा है कि ये उसके लिए एक कठिन दिन है और वह इस समस्या को जल्द ही सुधारने के लिए काम कर रही है।

हैकर्स करीब 300 लोगों से 1 लाख 10 हजार डॉलर बिटक्वाइन निकाल पाए

इन मशहूर हस्तियों के अकाउंट से पोस्ट किए गए ट्वीट कुछ ही मिनट बाद डिलीट हो गए। परंतु इसके बाद तो जैसे एक लहर सी चल पड़ी और कई अन्य प्रमुख लोगों के अकाउंट धड़ाधड़ हैक होने लगे। इनके ट्विटर अकाउंट्स से प्रत्येक $1000 के बदले $2,000 भेजने का नकली ट्वीट किया गया। आम लोगों को कुछ हद तक नुकसान पहुंचा है। इस हैक के बीच हैकर्स करीब 300 लोगों से 1 लाख 10 हजार डॉलर बिटक्वाइन निकाल पाए हैं।

दुनिया के दिग्गजों का ट्विटर अकाउंट हैक हो जाने के बाद ट्विटर हरकत में आया। कंपनी ने बयान जारी करते हुए कहा कि यह “ट्विटर अकाउंट को प्रभावित करने वाली सुरक्षा घटना” के बारे में सावधान करने वाली घटना थी। इसकी जांच कर रही है और इसे ठीक करने के लिए काम किया जा रहा है।

ट्विटर के सीईओ जैक ने इस पूरे मामले पर कहा कि आज ट्विटर में बहुत ही मुश्किल भरा दिन था, जो हैकिंग हुई उसे हमने रोकने का प्रयास किया। इसके लिए काफी अकाउंट्स को बंद कर दिया गया था। ये हैकिंग कैसे हुई और इसके पीछे कौन था, इसकी जांच जारी है।

यह भी पढ़ें: अब राज्य ही बताए कितना चाहिए आरक्षण – SC

Related posts

एलआईसी कर्मचारी रहे एफडीआई बढ़ाने के विरोध में हड़ताल पर

Buland Dustak

धनतेरस पर सस्‍ता सोना खरीदने का मौका, दाम 5,177 रुपये प्रति ग्राम

Buland Dustak

भारत में शुरू होगा स्पॉट गोल्ड एक्सचेंज, SEBI ने 18 जून तक मांगी राय

Buland Dustak

घरेलू विमान न्यूनतम और उच्चतम किराए में 30% तक बढ़ोतरी

Buland Dustak

टॉप-10 कंपनियों का मार्केट कैप 91 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा घटा

Buland Dustak