बिजनेस

बिटकॉइन का नए साल में जोरदार स्वागत, 1 कॉइन की कीमत 24 लाख

नई दिल्ली: दुनियाभर के लोगों ने कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर आधारित आभासी मुद्रा (क्रिप्टोकरंसी) का जोरदार स्वागत किया है। शनिवार को इसमें करीब 11 प्रतिशत की तेजी देखी गई। इस तेजी के साथ ही आज सुबह एक बिटकॉइन की कीमत 32,606 डॉलर यानी करीब 24 लाख भारतीय रुपये हो गई है। कीमत तेजी से बढ़ने की एक बड़ी वजह ये भी है कि बड़े निवेशक तुरंत मुनाफा कमाने के लिए इसमें पैसे लगा रहे हैं।

वर्ष 2020 में इसके रिटर्न की बात करें तो 2020 में करीब 300 प्रतिशत यानी करीब 4 गुना रिटर्न दिया है। इसका मतलब हुआ कि अगर किसी ने 2020 की शुरुआत में बिटकॉइन में 1 लाख रुपये लगाए थे तो अब तक उसके पैसे 4 लाख रुपये में बदल चुके हैं।

बिटकॉइन की कीमत

क्या है बिटकॉइन

एक तरह की क्रिप्टोकरंसी है। एक ऐसी मुद्रा है जो कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर बनी होती है। यह एक स्वतंत्र मुद्रा है जिसका कोई मालिक नहीं होता। यह करेंसी किसी भी एक अथॉरिटी के काबू में भी नहीं होती। अमूमन रुपया, डॉलर, यूरो या अन्य मुद्राओं की तरह ही इस मुद्रा का संचालन किसी राज्य, देश, संस्था या सरकार द्वारा नहीं किया जाता। इसकी सबसे खास बात ये है डिजिटल होने की वजह से आप इसे छू नहीं सकते। बिटकॉइन की शुरुआत 2009 में हुई थी। कीमत लगातार बढ़ रही है।

बिटकॉइन कैसे करता है काम?

विशेषज्ञ हितेश मालवीय बताते हैं कि बिटकॉइन वर्चुअल कॉइन हैं, जो अपनी कीमत बनाने और बढ़ाने के लिए डिजाइन किए गए हैं। इस तरह पैसों के लेन-देन के लिए आपकों बैंकों तक जाने की जरूरत नहीं है। अगर किसी भी व्यक्ति के पास बिटकॉइन है, तो इसकी कीमत और वैल्यू ठीक उसी तरह मानी जाएगी जैसे ईटीएफ में कारोबार करते समय सोने की कीमत मानी जाती है।

इस बिटकॉइन से आप ऑनलाइन शॉपिंग भी कर सकते हैं और इसे निवेश के रूप में भी संभाल कर रख सकते हैं। बता दें कि ये बिटकॉइन एक पर्सनल ई-वॉलेट से दूसरे पर्सनल ई-वॉलेट में ट्रांसफर भी किए जाते हैं। ये ई-वॉलेट्स आपका निजी डेटाबेस होते हैं, जिसे आप अपने कंप्यूटर, लैपटॉप, स्मार्टफोन, टैबलेट या किसी ई-क्लाउड पर स्टोर करते हैं।

यह भी पढ़ें: IIT दिल्‍ली के शोधकर्ताओं ने विकसित की ई-कचरा प्रबंधन की नई तकनीक

Related posts

Banking Regulation Act 2020 को मिली संसद की मंजूरी

Buland Dustak

सोना चांदी की कीमत में गिरावट, 2 दिन में 1000 रुपये गिरा सोना

Buland Dustak

इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया भारत का पहला 100 ऑक्टेन पेट्रोल

Buland Dustak

अडानी और अंबानी के लिए स्वर्णकाल साबित हुआ कोरोना काल, संपत्ति हुई दोगुनी

Buland Dustak

करदाताओं को सरकार जल्द देगी Charter of Rights का तोहफा

Buland Dustak

Ethanol Production : 422 प्रोजेक्ट को मंजूरी, 50 हजार करोड़ होंगे निवेश

Buland Dustak