29 C
New Delhi
April 21, 2024
बिजनेस

Banking Regulation Act 2020 को मिली संसद की मंजूरी

नई दिल्‍ली: बैंक ग्राहकों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करने वाले Banking Regulation Act (बैंकिंग रेग्‍युलेशन संशोधन विधेयक) 2020 को राज्‍यसभा से मंगलवार को मंजूरी मिल गई है। इससे पहले लोकसभा ने 16 सितम्‍बर को इस विधेयक को पास कर दिया था। इस विधयेक के कानून बनने देश के सहकारी बैंक रिजर्व बैंक आफॅ इंडिया (आरबीआई) की देखरेख में काम करेंगे। 

Banking Regulation Act

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि सरकार का इस बिल को लाने का उद्देश्य जमाकर्ताओं के हितों की रक्षा करना है। निर्मला सीतारमण के जवाब के बाद राज्यसभा ने Banking Regulation Act, 2020 को ध्वनिमत से पारित कर दिया। यह विधेयक कानून बनने के बाद उस अध्यादेश की जगह लेगा, जिसे 26 जून को लाया गया था।

राज्यसभा में विधेयक पर चर्चा का संक्षिप्त जवाब देते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि जमाकर्ताओं के हितों की पूर्ण रक्षा करने के लिए ये प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह संशोधन केवल बैंकिंग गतिविधियों में लगी सहकारी समितियों के लिए है। वित्‍त मंत्री ने कहा कि कोविड-19 की अवधि के दौरान कई सहकारी बैंक वित्तीय दबाव में आ गए। उनकी वित्तीय स्थिति पर नियामक संस्था रिजर्व बैंक के जरिए कड़ी निगरानी की जा रही है। 

उल्‍लेखनीय है कि देश में सहकारी बैंकों की लगातार बिगड़ती वित्तीय सेहत, गड़बड़ी और घोटाला के मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने बैंकिंग रेगुलेशन ऐक्ट, 1949 में संशोधन का फैसला लिया था। पीएमसी बैंक घोटाले और यस बैंक की पृष्ठभूमि में लाए गए इस विधेयक का उद्देश्य सहकारी बैंकों में पेशेवर तौर तरीकों को बढ़ाना, पूंजी तक पहुंच को बेहतर बनाना, प्रशासन में सुधार लाना और आरबीआई के जरिए समुचित बैंकिंग व्यवस्था को सुनिश्चित करना है।

Read More: बैंकिंग सेक्टर पर कोरोना इफेक्ट, सिर्फ 4 घंटे होगा सामान्य कामकाज

Related posts

बैंक निजीकरण: सरकारी बैंकों के निजीकरण की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी

Buland Dustak

भारत में गूगल करेगा 75,200 करोड़ रुपये का निवेश

Buland Dustak

Anchorage Infrastructure को 15 हजार करोड़ के FDI प्रस्ताव की मंजूरी

Buland Dustak

भारत में भी बनेगा Gold Stock Exchange, शेयर की तरह होगी सोने की ट्रेडिंग

Buland Dustak

यस बैंक केस: ईडी ने राणा कपूर के लंदन अपार्टमेंट को किया अटैच

Buland Dustak

ECLGS Scheme के तहत कर्ज लेने की समय-सीमा 31 मार्च, 2022 तक बढ़ी

Buland Dustak