43.1 C
New Delhi
May 25, 2024
उत्तर प्रदेश

लखनऊ समेत सात जिलों की ओपीडी बंद, MBBS छात्रों की लगेगी ड्यूटी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है। इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने मेडिकल कॉलेज एवं चिकित्सा संस्थानों में ओपीडी की सेवाएं बंद करने का निर्णय किया है। हालांकि असाध्य रोगियों की समस्याओं को ध्यान में रखकर सरकार ने ऐसे रोगियों के इलाज की सुविधा पहले की तरह ही जारी रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इमरजेंसी व ट्रामा की सुविधाओं को भी सातों दिन 24 घंटे चालू रखने के निर्देश दिए है।

विशेष सचिव (चिकित्सा शिक्षा) की ओर से आदेश जारी करते हुए कहा गया है कि प्रदेश में लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, आगरा, झांसी व मेरठ के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ओपीडी सेवाएं बंद रहेंगे। यहां पर अत्यंत जरूरी सर्जरी के अलावा अन्य आपरेशन को जरूरत के अनुसार आगे टालने के निर्देश दिए गए हैं।

ओपीडी बंद

विशेष सचिव ने यह भी कहा कि कोरोना की फैली महामारी को देखते हुए जांच के लिए ओपीडी, नियोनेटल सेवाएं व एंटीनेटल क्लीनिक, कैंसर मरीजों को कीमोथैरेपी व रेडियोथैरेपी सेवाएं व किडनी के मरीजों की डायलिसिस की सुविधाएं पूर्व की तरह ही चलती रहेंगी इसे नहीं बंद किया जायेगा। कहा कि कोविड और नॉन कोविड मरीजों को उचित इलाज मुहैया कराने के लिए अस्पतालों की ओपीडी से सामान्य मरीजों की भीड़ को कम करना जरूरी था इसी कारण यह निर्णय किया गया है।

एमबीबीएस छात्रों की लगाई जायेगी ड्यूटी

राज्य सरकार ने यह भी निर्णय किया है कि कोरोना के संक्रमित मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के लिए अब एमबीबीएस के चौथी और पांचवें वर्ष के छात्रों को भी कोविड ड्यूटी पर लगाया जायेगा। इन छात्रों की परीक्षा निरस्त होने के वजह से इनकी ड्यूटी लगाई गई है। वहीं, निजी अस्पतालों के डॉक्टर और पैरामेडिकल कर्मचारियों की मनमानी अवकाश लेने  पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है।

यह भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को कोरोना टीके की बर्बादी रोकने के दिए निर्देश

Related posts

अवध विश्वविद्यालय: 26 अक्टूबर से शुरु होगी B.Ed, M.Ed की परीक्षाएं

Buland Dustak

उप्र में मिशन शक्ति अभियान से जागरूक हुईं महिलाएं, हक की आवाज हुई बुलंद

Buland Dustak

पायलट प्रोजेक्ट: किसानों का डेटाबेस तैयार कर सीधे पहुंचाएगी लाभ

Buland Dustak

दक्षिण कोरिया के निवेशकों की सुविधा के लिए उप्र में हेल्प डेस्क स्थापित

Buland Dustak

उप्र में वोकल फॉर लोकल को मिलेगा बढ़ावा, औद्योगिक गतिविधियों को मिलेगी मजबूती

Buland Dustak

Hastinapur में उत्खनन से सामने आएंगे महाभारतकालीन ‘साक्ष्य’

Buland Dustak