43.1 C
New Delhi
May 25, 2024
देश

वन महोत्सव: अमित शाह ने 11 ईको पार्क का ऑनलाइन शिलान्यास किया

‘वन महोत्सव 2020’ का ऑनलाईन शुभारंभ 

रांची: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को दिल्‍ली स्थित अपने आवास पर पौधरोपण करने के साथ ही ‘वन महोत्सव 2020’ ऑनलाइ शुभारंभ भी किया। वृक्षारोपण अभियान के तहत ही सेंट्रल कोलफील्डस लिमिटेड (सीसीएल) सहित कोल इंडिया की अनुषांगी कंपनियों एवं लिग्‍नाईट कम्पनियों में ‘वन महोत्सव 2020’ का ऑनलाइन शुभारंभ किया। केन्द्रीय गृहमंत्री के साथ ही  इस अवसर पर कोयला, खान एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी, कोयला सचिव अनिल कुमार जैन एवं अन्य विशिष्ट अतिथिगण उपस्थित थे। रांची स्थित सीसीएल मुख्‍यालय व अन्य कम्पनियों के मुख्यालय में इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया।

सीसीएल मुख्‍यालय में आयोजित कार्यक्रम में रांची के सांसद संजय सेठ, गिरिडीह के सांसद चन्‍द्रप्रकाश चौधरी, चतरा के सासंद सुनिल कुमार सिंह, सीसीएल के सीएमडी गोपाल सिंह ने संयुक्‍त रूप से ’कायाकल्‍प वाटिका’ का उद्घाटन किया। सभी सांसद, सीएमडी एवं निदेशकगण ने ’कायाकल्‍प वाटिका’ में पौधारोपण किया। केन्द्र से कार्यक्रम को संबोधित करते हुये गृहमंत्री अमित शाह ने कोयला मंत्रालय सहित कोयला परिवार को शुभकामनाएं देते हुये कहा कि स्‍वत्रंता सेनानी लोकमान्‍य बाल गंगाधर तिलक एवं शहीद चन्‍द्रशेखर आजाद की जयंती के अवसर पर वृहद स्‍तर पर वृक्षारोपण अभियान की शुरूआत की जा रही है।

वन महोत्सव

उन्‍होंने कहा कि वर्तमान में दुनिया जलवायु परिवर्तन का सामना कर रही है और धरती माता को बचाने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाना हम सभी का कर्तव्‍य है। कोयला, खान एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के कुशल नेतृत्‍व में देश आत्‍मनिर्भरता की ओर अग्रसर है। उन्‍होंने कहा कि देश में कोयला भंडार प्रचुर मात्रा में है और आने वाले समय में देश को कोयले की आयात करने की आवश्‍यकता नहीं होगी। जोशी ने कहा कि अब कामर्शियल माइनिंग की शुरूआत की गयी है। इसके द्वारा हमारा लक्ष्‍य है कि कोयला का आयात आने वाले समय में शून्‍य हो जाए।  

पर्यावरण के क्षेत्र में दायित्‍व

सीसीएल के प्रबंध महानिदेशक (सीएमडी) गोपाल सिंह ने प्रधानमंत्री, केन्‍द्रीय गृहमंत्री, कोयला, खान एवं संसदीय कार्य मंत्री, मुख्‍यमंत्री झारखण्‍ड, सासंद एवं सीसीएल के श्रमिक प्रतिनि‍धिगण एवं स्‍टेकहोल्‍डर्स को साधुवाद देते हुए कहा कि सीसीएल वृहद स्‍तर पर ईको पार्क का निर्माण एवं वृक्षारोपण समयबद्ध रूप से कर रहा है, जिससे झारखंडवासी लाभान्वित होंगे। उन्‍होंने कहा कि ईको पार्क निर्माण करते समय इस बात का ध्‍यान रखा जा रहा है कि बच्‍चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी लाभान्वित हों। सिंह ने कहा कि सीसीएल कोयला कंपनी है और इस नाते सीसीएल का पर्यावरण के क्षेत्र में दायित्‍व और अधिक बढ़ जाता है।

सीसीएल न सिर्फ कोयला उत्‍पादन कर देश की ऊर्जा आवश्‍यकता को पूरा कर रहा है बल्कि पर्यावरण के क्षेत्र में भी उल्‍लेखनीय कार्य कर रहा है। इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) विनय रंजन ने वृक्षारोपण अभियान की शुरूआत के लिए शुभकमानाएं दीं और आज के सफल आयोजन के लिए सभी को बधाई दी। यह आयोजन कोयला/लिग्नाइट के भंडार वाले 10 राज्यों के 38 जिलों में फैले 130 से भी अधिक स्थानों पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया।

कार्यक्रम के दौरान सीसीएल कमांड क्षेत्रों में 11 ‘ईको पार्क’ का शिलान्‍यास किया गया। यह सभी ईको पार्क सीसीएल के कथारा, बोकारो एवं करगली, पिपरवार, ढोरी, रजरप्‍पा, बरका-सयाल, हज़ारीबाग, कुजू, एनके, मगध आम्रपाली, अरगड्डा में विकसित किया जायेगा। सभी 11 ‘ईको पार्क’ 317 एकड़ भूमि पर बनाया जा रहा है जिसमें विभिन्‍न जैव विविधता, मृदा संरक्षण एवं पर्यावरण संबंधी अन्‍य गतिविधियों को आधुनिक तकनीकी के माध्‍यम से विस्‍तारित किया जायेगा। 

Related posts

बांसवाड़ा में केदारनाथ हाइवे पर बरस रहे हैं पत्थर

Buland Dustak

भारत ने एक करोड़ से अधिक कोविड वैक्सीनेशन करके रचा इतिहास: डॉ. हर्ष वर्धन

Buland Dustak

10 हजार नए एफपीओ से गांवों में बढ़ेंगे रोजगार : तोमर

Buland Dustak

बुंदेलखंड की अयोध्या ओरछा को विश्वपटल पर प्रस्तुत करेगी रामलीला

Buland Dustak

अब वायुसेना और नौसेना की तरह सेना के लड़ाकू विमान उड़ाएंगी महिला पायलट

Buland Dustak

केदारनाथ पैदल मार्ग पर भूस्खलन से यात्रा बंद, फंसे तीर्थयात्री

Buland Dustak