36.8 C
New Delhi
May 26, 2024
उत्तर प्रदेश

UP : 311 केन्द्रों पर 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीनेशन कार्य होगा प्रारम्भ

- पौने 11 लाख डोज अब तक हो चुकी प्राप्त 

लखनऊ: कोरोना वैक्सीनेशन-अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में संक्रमण के 506 नये मामले सामने आये हैं।इसी दौरान इलाज के बाद 539 लोग स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए।

प्रदेश में 16 जनवरी से प्रथम चरण में 311 केन्द्रों पर वैक्सीनेशन का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। वैक्सीन की लगभग पौने 11 लाख डोज अब तक प्राप्त हो चुकी है और ये सभी जनपदों में आज शाम तक पहुंच जायेगी। अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि वैक्सीनेशन के लिए स्वास्थ्य कर्मियों का प्रशिक्षण पूरा हो गया है।

प्रदेश में वैक्सीनेशन का सत्र प्रातः 09 बजे से सांय 05 बजे तक चलेगा। उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन एवं क्रम के अनुसार कोविड वैक्सीनेशन का कार्य संचालित किया जायेगा। 

UP : 311 केन्द्रों पर 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीनेशन कार्य होगा प्रारम्भ

राज्य में चौबीस घंटे में 506 नए मरीज मिले, सक्रिय मामलों की संख्या घटकर हुई 10,080

वहीं सक्रिय मामलों की संख्या अब घटकर 10,080 हो गई है। राज्य में अब तक संक्रमण से 8,543 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,33,621 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 2,58,41,533 सैम्पल की जांच की गयी है।

प्रदेश में कुल सक्रिय मामलों में से 3,796 लोग होम आइसोलेशन में हैं। अब तक कुल 3,48,335 लोग होम आइसोलेशन का विकल्प चुन चुके हैं, जिनमें से 3,44,539 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित किया जा चुका है। इसके अतिरिक्त शेष मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं।

Also Read : बाबा रामदेव ने दोबारा लॉन्च की कोरोना की दवा, जानें कितनी कारगर है ‘कोरोनिल’

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक कुल 5,76,519 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 5,06,332 टीम दिवस के माध्यम से 3,12,52,129 घरों के 15,19,01,447 व्यक्तियों का सर्वेक्षण किया गया है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से चौबीस घंटे में 5,788 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। वहीं अब तक कुल 3,91,429 लोग इस सुविधा का प्रयोग लेकर चिकित्सीय परामर्श ले चुके हैं।  

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि जैसे-जैसे चरणबद्ध तरीके से लोगों का क्रम आएगा, वह आकर कोरोना वैक्सीनेशन लगा सकेंगे। वैक्सीनेशन होने के बाद भी लोग सावधानी बरतें, क्योंकि इसके दो डोज हैं। पहले टीका के 28 दिन बाद दूसरा टीका लगेगा। दूसरा टीका लगने के दो सप्ताह बाद शरीर में प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है। इसलिए तब तक सावधानी में जरा भी कमी नहीं करनी है।

Related posts

टीचर भर्ती की परीक्षा में 50% से कम अंक वालों को भी करे शामिल : हाईकोर्ट

Buland Dustak

प्रधानमंत्री ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया

Buland Dustak

State Karate Championship : पांच स्वर्ण के साथ लखनऊ रहा अव्वल

Buland Dustak

लखीमपुर खीरी: दो दिन में तीन बड़े नाव हादसे, 22 सकुशल बचाये गए

Buland Dustak

उप्र हिन्दी संस्थान के पुरस्कारों की घोषणा, शशिभूषण को भारत-भारती सम्मान

Buland Dustak

कोरोना संक्रमित कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान का निधन

Buland Dustak