राज्य

बंगाल में छिटपुट हिंसा के बीच शाम 5 बजे तक करीब 80% मतदान

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में शनिवार को पहले चरण के विधानसभा चुनाव के दौरान पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों पर मतदान जारी है। सुबह सात बजे से शाम पांच बजे के बीच इन सभी सीटों पर औसतन 80 फीसदी के करीब वोटिंग हुई है।

चुनाव आयोग की ओर से जारी बयान में शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक शाम पांच बजे तक पूरे राज्य में 79.79 फ़ीसदी वोटिंग हुई है। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि मतदान को लेकर जिस तरह का उत्साह लोगों में दिखा है, यह शुभ संकेत है। राज्य के बाकी सात चरणों में और भी बेहतरीन वोटिंग की उम्मीद है।

मतदान

आयोग की ओर से जारी बयान के मुताबिक बांकुड़ा जिले में शाम पांच बजे तक 80.03 फीसदी वोटिंग हुई है, जबकि झाड़ग्राम में 80.55 फ़ीसदी वोटिंग हुई है। पश्चिम मेदिनीपुर में 80.16 फ़ीसदी और पूर्व मेदिनीपुर में 82.42 फ़ीसदी वोटिंग हुई है। पुरुलिया में 77.13 फ़ीसदी वोटिंग रिकॉर्ड किया गया है।

विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से सबसे अधिक वोटिंग बांकुड़ा के सालतोड़ा विधानसभा में हुई है। यहां शाम पांच बजे तक 85.25 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर लिया है। पूर्व मेदिनीपुर के खेजूरी में 84.43 फ़ीसदी लोगों ने मतदान किया, जबकि दक्षिण कांथी में 83.76 फीसदी लोगों ने वोट दिया है।

तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने की नारेबाजी

वहीं आज सुबह से ही कई क्षेत्रों में हिंसा की खबरें भी मिल रही थीं। सालबनी में संयुक्त मोर्चा उम्मीदवार सुशान्त घोष को घेरकर तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने नारेबाजी की। उन पर हमले की कोशिश भी हुई। कांथी इलाके में शुभेंदु अधिकारी के भाई सौमेंदु अधिकारी की गाड़ी में तोड़फोड़ की गई है और उनके ड्राइवर को मारा पीटा गया है।

कुछ मतदान केंद्रों के अंदर सेल्फ हेल्प ग्रुप के नाम पर महिलाएं घुसकर कथित तौर पर भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ वोटिंग के लिए लोगों को उकसा रही थीं। कई जगहों पर तृणमूल कार्यकर्ताओं पर मतदाताओं को धमकाने का आरोप लगा तो कुछ जगहों पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर भी बूथ को जाम करने के आरोप लगे हैं।

पुरुलिया से तृणमूल उम्मीदवार का वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह भाजपा कार्यकर्ता को गोली मारने की धमकी दे रहे हैं। इस पर चुनाव आयोग ने रिपोर्ट तलब की है। इस बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का एक ऑडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें उन्होंने नंदीग्राम के स्थानीय भाजपा नेता को फोन कर जीतने में मदद करने की गुहार लगाई है। इसे लेकर भाजपा ने दावा किया है कि ममता बनर्जी अपनी हार को लेकर चिंतित हैं और यह फोन उसी का संकेत है।

यह भी पढ़ें: उप्र पंचायत चुनाव : लखनऊ में दूसरे चरण में होगा मतदान

Related posts

उप्र के सभी 822 ब्लाकों में 24 मार्च को लगेगा रोजगार मेला

Buland Dustak

तीरथ सिंह रावत के उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बनने पर प्रधानमंत्री ने दी बधाई

Buland Dustak

पश्चिमी राजस्थान में 1275 करोड़ रुपये से बनेंगे चार रिजरवायर

Buland Dustak

एम्स में रोबोटिक विधि से आहार नाल का सफल ऑपरेशन

Buland Dustak

झारखंड : कृषि क्षेत्र में नये युग का आगाज करेंगे ‘बिरसा किसान’

Buland Dustak

हर व्यक्ति लगाए मास्क व रहे सतर्क, इसके लिए सख्ती जरूरी : शिवराज

Buland Dustak