36.8 C
New Delhi
May 26, 2024
खेल जगत

राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता प्रणय खरे ने मध्यप्रदेश को दिलाया रजत पदक

-भोलू परमार को बेस्ट रायडर का अवार्ड, प्रदेश के घुड़सवारों ने प्रदेश को दिलाए 14 पदक

भोपाल: दिल्ली के आर्मी पोलो ग्राउंड पर गत 20 दिसम्बर से खेली जा रही जूनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता के अंतिम दिन बुधवार को मप्र राज्य अकादमी के खिलाड़ी प्रणय खरे ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्रॉस कंट्री इवेन्ट में मध्यप्रदेश को रजत पदक दिलाया। प्रतियोगिता के ग्रुप-1 केटेगरी में अकादमी के खिलाड़ी भोलू परमार ने जूनियर नेशनल चैम्पियन का खिताब अर्जित किया। उन्हें बेस्ट रायडर की ट्रॉफी प्रदान कर सम्मानित किया गया।

मप्र खेल विभाग के जनसम्पर्क अधिकारी महेन्द्र व्यास ने बताया कि प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाडिय़ों ने 4 स्वर्ण, 6 रजत और 4 कांस्य सहित कुल 14 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं। प्रतियोगिता में 3 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य पदक जीतकर अपनी केटेगरी में भोलू परमार नेशनल चैम्पियन बनें। उन्होंने प्रतियोगिता में अपने अश्व रॉकफिलर पर शानदार प्रदर्शन करते हुए बेस्ट रायडर का अवार्ड अपने नाम किया।

राष्ट्रीय घुड़सवारी
खिलाडिय़ों पर है गर्व

खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने जूनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाडिय़ों द्वारा किए गए शानदार प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पदक विजेता खिलाडिय़ों को बधाई दी है। उन्होंने कोरोना काल के बाद दिल्ली में आयोजित जूनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाडिय़ों द्वारा अर्जित इस सफलता को बड़ी उपलब्धि बताते हुए कहा कि हमें अपने खिलाडिय़ों पर गर्व हैं।

प्रतियोगिता के अंतिम दिन बुधवारको खेली गयी दो किलोमीटर क्रॉस कंट्री व्यक्तिगत स्पर्धा में अकादमी के प्रतिभावान घुड़सवार प्रणय खरे ने अपने अश्व हार्लिकेन पर प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश को रजत पदक दिलाया। इसे मिलाकर प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाडिय़ों ने कुल 14 पदक मध्य प्रदेश को दिलाए हैं जिसमें चार स्वर्ण, छह रजत और चार कांस्य पदक शामिल हैं।

खेल संचालक पवन जैन ने जूनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में अकादमी के खिलाडिय़ों द्वारा किए गए प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के माध्यम से खिलाडिय़ों को उच्च स्तरीय प्रशिक्षण और खेल सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। इसी का परिणाम है कि अकादमी के खिलाड़ी उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं और लगातार पदक जीतकर प्रदेश का मान बढ़ा रहे हैं।

जूनियर राष्ट्रीय घुड़सवारी प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश राज्य घुड़सवारी अकादमी के 9 बालक और 5 बालिकाओं सहित 14 खिलाडिय़ों ने अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक कैप्टन भागीरथ के मार्गदर्शन में भागीदारी कर पदक अर्जित किए।

यह भी पढ़ें: ​जिया राय ने ​8 घंटे 40 मिनट में 36 किमी. तैराकी कर रचा इतिहास

Related posts

1983 वर्ल्ड कप जीत ने भारतीय क्रिकेट को बदल कर रख दिया : कैफ

Buland Dustak

श्रीलंकाई बल्लेबाज उपुल थरंगा ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

Buland Dustak

हॉकी इंडिया ने खेल रत्न पुरस्कार चयनित श्रीजेश और मनप्रीत को दी बधाई

Buland Dustak

रूबिना फ्रांसिस ने Para World Cup निशानेबाजी में रचा इतिहास

Buland Dustak

आईपीएल: हैदराबाद ने दर्ज की पहली जीत, पंजाब किंग्स को 9 विकेट से हराया

Buland Dustak

मप्र के सर्वोच्च खेल अलंकरण पुरस्कार 2019 की घोषणा

Buland Dustak