देश

46 ऑनलाइन फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम कार्यक्रमों का उद्घाटन

- 1000 ऑनलाइन फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की योजना बनाई गई, एक लाख प्रतिभागियों को होगा लाभ
- अब तक 499 एफडीपी ऑनलाइन आयोजित किए गए, 70 हजार से ज्यादा टीचरों को दी गई ट्रेनिंग


नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक सोमवार को अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद और अभातशिप प्रशिक्षण और अधिगम (अटल) अकादमी की ओर से 46 ऑनलाइन अटल संकाय विकास कार्यक्रमों का उद्घाटन करेंगे। इसी के साथ 500वीं अटल एफडीपी (फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम) की शुरुआत होगी। 

कोरोना महामारी के इस चुनौतीपूर्ण समय में अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) से जुड़े हुए शिक्षकों के कौशल में सुधार के लिए अब तक 499 ऑनलाइन फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम आयोजित किए जा चुके हैं, जिसमें देश के उच्च तकनीकी शिक्षण संस्थानों के 70 हजार से ज्यादा शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जा चुकी है।

फैकल्टी डिवेलपमेंट प्रोग्राम

उल्लेखनीय है कि 1000 ऑनलाइन एफडीपी की योजना बनाई गई है, जिससे एक लाख प्रतिभागियों को लाभ होगा। उद्घाटन समारोह में आईआईटी, एनआईटी, आईआईआईटी के विभिन्न प्रमुख संस्थान और राष्ट्रीय महत्व के अन्य संस्थान के गणमान्य व्यक्ति शामिल होंगे।

अटल अकादमी की ओर से आयोजित अटल लर्निंग और टर्निंग प्रोग्राम ऑनलाइन चलाया जाएगा

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के तत्वावधान में अभातशिप शिक्षण और प्रशिक्षण अटल अकादमी की ओर से आयोजित अटल लर्निंग और टर्निंग प्रोग्राम ऑनलाइन चलाया जाएगा। आईआईटी, एनआईटी, आईआईआईटी (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नॉलजी) के साथ भागीदारी में पूरे देश के विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। एआईसीटीई की ओर से स्वीकृत संस्थानों के संकाय सदस्य इसमें भाग ले सकते हैं।

एआईसीटीआई के चेयरमैन प्रोफेसर डॉ. अनिल सहस्त्रबुद्धे ने कहा, अटल लर्निंग और ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ब्लॉक चेन, रोबोटिक्स, क्वांटम कंप्यूटिंग, डेटा विज्ञान, साइबर सुरक्षा, थ्री डी प्रिटिंग और डिजाइन, एआर (ऑग्युमेंटेंड रिएलिटी) और वीआर (वर्चुअल रिएलटी) से संबंधित क्षेत्रों में एआईसीटीई से जुड़े संस्थानों के शिक्षकों को नई-नई विधाओं में शिक्षित और प्रशिक्षित किया जा रहा है।

अखिल भारतीय तकनीकी परिषद के उपाध्यक्ष प्रोफेसर एम.पी. पूनिया ने कहा, 2019-20 में अटल ट्रेनिंग और लनिंग प्रोग्राम के तहत नौ विषयों में फैकल्टी के सदस्यों के कौशल को निखारने के लिए 5 दिवसीय 185 एफडीपी कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था। इनमें देश भर के आईआईटी, एनआईटी और आईआईआईटी जैसे प्रमुख संस्थानों ने भागीदारी की थी।

यह भी पढ़ें: रमेश पोखरियाल व स्मृति ईरानी ने ‘टॉयकैथॉन 2021’ का किया उद्घाटन

Related posts

छात्र जीवन से संसदीय राजनीति तक शानदार रहा तरुण गोगोई का सफ़र

Buland Dustak

जीरो टॉलरेंस की नीति पर करेगा महिला आयोग काम-रेहाना रियाज

Buland Dustak

BHU में शुरू हुआ डीआरडीओ का अस्पताल, शाम तक सात मरीज भर्ती

Buland Dustak

गाय के गोबर से ‘खादी प्राकृतिक पेंट’ ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती

Buland Dustak

भारत ने लद्दाख में तैनात किए मार्कोस कमांडो

Buland Dustak

विधानसभा में द असम कैटल प्रिजर्वेशन बिल-2021 ध्वनि मत से पारित

Buland Dustak