36.8 C
New Delhi
May 26, 2024
देश

Bird Flu का बढ़ता कैहर, मप्र में अब तक 400 कौओं की मृत्यु

मध्यप्रदेश के इंदौर, मंदसौर और आगर जिलों में कौओं में bird flu की पुष्टि हुई है, जबकि उज्जैन, सीहोर, देवास, गुना, शाजापुर, खरगोन और नीमच जिलों में कौओं की मृत्यु होने पर सैम्पल एकत्र कर रोकथाम की कार्रवाई की गई है। इन जिलों से सैम्पल भारतीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला, भोपाल भेजे जाकर रोग पुष्टि की प्रतीक्षा की जा रही है। प्रदेश में अब तक लगभग 400 कौओं की मृत्यु की सूचना मिली है।

Bird Flu effect

जनसम्पर्क अधिकारी सुनीता दुबे ने मंगलवार शाम को बताया कि पशुपालन विभाग के अनुसार मुर्गियों में bird flu वायरस H5N8 अभी तक नहीं पाया गया है। चिकन तथा अण्डों आदि को अच्छी तरह पकाकर उपयोग किया जा सकता है। इनसे मानव स्वास्थ्य को किसी प्रकार का खतरा नहीं है। प्रदेश में इस flu की स्थिति से भारत सरकार को प्रतिदिन अवगत कराया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि पशुपालन विभाग द्वारा bird flu वाले जिलों में कलेक्टर्स के मार्गदर्शन में पशुपालन, वन, स्वास्थ्य विभाग एवं स्थानीय निकायों के समन्वित प्रयासों से तत्काल रोग नियंत्रण, सैम्पल एकत्रीकरण, डिसइन्फेक्शन, डिस्पोजल आदि की कार्रवाई की गई है। सभी जिलों को भारत सरकार की एडवाइजरी के अनुसार कार्रवाई करने और सतर्कता बरतने के निर्देश दिये गये हैं।

राज्य पशु रोग अनुसंधान

राज्य पशु रोग अनुसंधान प्रयोगशाला भोपाल के माध्यम से जिलों से समन्वय कर तकनीकी मार्गदर्शन दिया जा रहा है। संदिग्ध नमूने भोपाल स्थित भारतीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला (NISHAD) को नियमित भेजे जा रहे हैं। पशुपालन विभाग द्वारा जन-जागरूकता के लिये कुक्कुट-पालकों और संबंधित व्यवसाईयों के बचाव के लिये आवश्यक जानकारी दी जा रही है।

प्रदेश के सभी जिलों में पशुपालन विभाग के अमले द्वारा जन-जागरूकता के साथ पूर्ण सतर्कता और सावधानी रखी जा रही है। कौओं, मुर्गियों अथवा अन्य पक्षियों में बीमारी या अप्राकृतिक मृत्यु की सूचना मिलते ही तत्काल सैम्पल भोपाल लैब भेजे जा रहे हैं। संक्रमित स्थान को स्थानीय निकाय के सहयोग से तुरंत सेनेटाइज किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें- रमेश पोखरियाल व स्मृति ईरानी ने ‘टॉयकैथॉन 2021’ का किया उद्घाटन

Related posts

मिराज 2000 लड़ाकू विमान के शहीद पायलट की पत्नी वायुसेना में बनीं फ्लाइंग ऑफिसर

Buland Dustak

राष्ट्रपति ने 18 महिला सहित 47 शिक्षकों को दिए ‘राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार’

Buland Dustak

Supermoon 2021 : आज आकाश में दिखेगा साल का तीसरा सुपरमून

Buland Dustak

अब हर सैनिकों के कंधे पर होगी ‘इग्ला मिसाइल’

Buland Dustak

भगवान बुद्ध आज भी हैं भारतीय संविधान के प्रेरणा : प्रधानमंत्री मोदी

Buland Dustak

प्रवासी भारतीयों और विदेशियों के लिए बच्चा गोद लेने की प्रक्रिया होगी आसान

Buland Dustak