बिजनेस

भारत में गूगल करेगा 75,200 करोड़ रुपये का निवेश

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर के देशों की अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है। इस समय दुनिया में मंदी का माहौल है। ऐसे में मोदी सरकार देश में हालात को सुधारने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है। भारत में डिजिटल अर्थव्यवस्था बनाने के लिए गूगल 10 बिलियन अमेरिकी डॉलर (75,200 करोड़ रुपये) का निवेश करेगा। Google और उसकी पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने सोमवार को कहा कि वह भारत में आने वाले 5 से 7 सालों में 10 अरब डॉलर का निवेश करेंगे।

गूगल भारत

इकोसिस्टम इन्वेस्टमेंट्स में ये निवेश इक्विटी इन्वेस्टमेंट, पार्टनरशिप और ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर का मिस्क्चर होगा। उनका यह भी कहना है कि इस निवेश से ‘डिजिटल इंडिया’ के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इरादों को एक नई दिशा मिलेगी। पिचाई ने कहा कि Google ये निवेश भारत में गूगल फॉर इंडिया डिजिटाइजेशन फंड के तहत करेगा। Google ने इसकी घोषणा कंपनी के सालाना गूगल फॉर इंडिया इवेंट के दौरान की है, जो इस बार डिजिटल तरीके से हुआ। 

Sundar Pichai Twitter

गूगल के भारत में निवेश के ऐलान से पूर्व प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने गूगल के मुख्य कार्यकारी सुंदर पिचाई से विभिन्‍न विषयों पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की। इसमें भारत के किसानों, नौजवानों और उद्यमियों की जिंदगियों को बदलने के लिए प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल पर चर्चा की हुई। पीएम और पिचई ने कोरोना संकट के दौरान नई कार्य संस्कृति पर भी चर्चा की। मोदी ने इसकी जानकारी ट्वीट करके दी, जिसमें उन्‍होंने बताया कि सुबह मैंने सुंदर पिचाई के साथ बहुत उत्साहवर्धक वार्ता की है। उल्लेखनीय है कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत पीएम मोदी कई सेक्टर से जुड़े लोगों से चर्चा कर रहे हैं।

Video conferencing between sundar pichai and modi

Google इन चार क्षेत्रों में करेगा निवेश

-हर भारतीय को उसकी अपनी भाषा में जानकारी उपलब्ध कराना।
-भारत की अपनी यूनिक जरूरतों के हिसाब से नए प्रोडक्ट्स एवं सर्विसेज विकसित करना।
-बिजनेसेज को डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन के हिसाब से सशक्त बनाना
-स्वास्थ्य, शिक्षा और एग्रिकल्चर जैसे क्षेत्रों के लिए तकनीक और आर्टिफिशियल इंजेलिजेंस विकसित करना।

भारतीय मूल के हैं गूगल सीईओ पिचाई 

दिग्‍गज आईटी कंपनी गूगल मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुंदर पिचाई भारतीय मूल के हैं, जो गूगल के साथ उसकी पैरेंट कंपनी अल्‍फाबेट का भी नेतृत्व संभाल रहे हैं। मूल रूप से तमिलनाडु के मदुरै से आने वाले 46 वर्षीय पिचाई के पास कुल 60 करोड़ डॉलर (करीब 43,200 करोड़ रुपये) की संपत्ति है। इस तरह वह दुनिया के सबसे अमीर कॉरपोरेट कार्यकारियों में से एक हैं।

Read More: ‘महिमा कौल’ ट्विटर की इंडिया पब्लिक पॉलिसी प्रमुख ने दिया इस्तीफा

Related posts

Gautam Adani बने एशिया के दूसरे सबसे धनी कारोबारी

Buland Dustak

Devyani International IPO के शेयर ने लिस्टिंग के साथ दिया बंपर मुनाफा

Buland Dustak

धनतेरस पर सस्‍ता सोना खरीदने का मौका, दाम 5,177 रुपये प्रति ग्राम

Buland Dustak

CAIT: कोरोना से 40 दिनों में 7 लाख करोड़ रुपये के घरेलू कारोबार का नुकसान

Buland Dustak